Wednesday, October 5, 2022
Homeक्रिकेटएशिया कप में सबसे ज्यादा बार मैं अॉफ द सीरीज जीतने वाले...

एशिया कप में सबसे ज्यादा बार मैं अॉफ द सीरीज जीतने वाले खिलाड़ी, देखें कौन है सूची में शामिल

27 अगस्त 2022 से यूएई यानि संयुक्त अरब अमीरात में एशिया कप 2022 की शुरुआत होने जा रही है। आपको बता दे की इस वर्ष एशिया कप T20 प्रारूप में खेला जाएगा। अबतक एशिया कप के कुल 14 सीजन खेले जा चुके है। वही भारत ने वर्ष 1984 से लेकर अबतक कुल 7 बार एशिया कप का खिताब अपने नाम किया है।

इसके अलावा वर्ष 1984 में पहली बार एशिया कप का आयोजन यूएई में ही किया गया था। गौरतलब है की एशिया कप 2022 का आयोजन पहले श्रीलंका में होने जा रहा था। मगर फिलहाल श्रीलंका की खराब आर्थिक स्थिति के कारण ऐसा नही हो पाया। जिसके चलते एशिया कप 2022 का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात में किया गया है।

एशिया कप में सबसे ज्यादा रन श्रीलंका के सनथ जयसूर्या ने बनाए है। सनथ जयसूर्या ने एशिया कप टूर्नामेंट में कुल 25 मैच खेलते हुए कुल 1220 रन बनाए है। श्रीलंका को खिताब दिलाने में उनका अहम योगदान रहा है। वही एशिया कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंका के पूर्व तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा के नाम है। इस दौरान मलिंगा ने 15 मैच में कुल 33 विकेट लिए है। इसमे मलिंगा का बेस्ट प्रदर्शन 34 रन देकर 5 विकेट रहा है।

आपको बता दे की वर्ष 1988 का एशिया कप भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच खेला गया था। इस दौरान फायनल मैच में भारत के सामने श्रीलंका ने कुल 177 रन का लक्ष्य रखा था। जिसे नवजोत सिंह सिद्धू और दिलीप वेंगसरकर की मदत से भारत ने 37.1 ओवर में हासिल कर जीत दर्ज की थी। इस दौरान नवजोत सिंह सिद्धू को ‘प्लेयर ऑफ द सिरीज’ के खिताब से नवाजा गया था। वही वर्ष 1995 में हुए एशिया कप में नवजोत सिंह सिद्धू ने नाबाद 84 रन बनाए थे। और इस समय भी उन्हे ‘प्लेयर ऑफ द सिरीज’ के खिताब से नवाजा गया था।

वर्ष 1986 में हुए एशिया कप में श्रीलंका ने फायनल में पाकिस्तान को 5 विकेट से हराते हुए टूर्नामेंट में जीत दर्ज की थी। इसके साथ ही अर्जुना राणातुंगा को ‘मैन ऑफ द सिरीज’ से जवाज गया था। बता दे की भारत ने वर्ष 1986 एशिया कप में हिस्सा नही लिया था। इसके अलावा वर्ष 1997 के एशिया कप फायनल में भारत के खिलाफ श्रीलंका की ओर से मार्वन अटापट्टू, सनथ जयसूर्या और कप्तान अर्जुना राणातुंगा की अर्धशतकीय पारी के कारण ही श्रीलंका ने 8 विकेट से इस मैच में जीत दर्ज की थी। वही अर्जुना राणातुंगा को इस दौरान ‘मैन ऑफ द सिरीज’ के खिताब से नवाजा गया था।

आपको बता दे की एशिया कप के 14 वें सीजन में वर्ष 2018 में फायनल मैच के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच एशिया कप सीजन 14 का फायनल मुकाबला खेला गया था। इस मैच में भारत ने बांग्लादेश को 3 विकेट से हराकर एशिया कप वर्ष 2018 की ट्रॉफी पर जीत दर्ज की थी। उस समय भारतीय टीम के ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन को इस पूरे टूर्नामेंट में शानदार बल्लेबाजी करने के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ के खिताब से नवाजा गया था।

वर्ष 2016 में पहली बार T20 फॉर्मेट में एशिया कप का आयोजन हुआ था। इसमें श्रीलंका के खिलाफ भारत ने फायनल में जीत दर्ज की थी। इस दौरान सब्बीर रहमान ने 5 मैचों में कुल 176 रन बनाने के लिए बांग्लादेश के खिलाडी सब्बीर रहमान को ‘मैन ऑफ द सिरीज’ से नवाजा गया था। इसके अलावा वर्ष 2012 में हुए एशिया कप में बांग्लादेश को फायनल में पाकिस्तान से हार मिली थी। मगर वर्ष 2012 के इस टूर्नामेंट में बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।

श्रीलंका के लाहिरु थिरीमाने ने वर्ष 2014 में 279 रनों के साथ ‘मैन ऑफ द सिरीज’ से नवाजा गया था। एशिया कप वर्ष 2010 में पाकिस्तान के खिलाडी शाहिद अफरीदी को कुल 265 रन और 3 विकेट के लिए ‘प्लेयर ऑफ द सिरीज’ से नवाजा गया था। वर्ष 2008 का एशिया कप श्रीलंका के खिलाडी अजंता मेंडिस के प्रदर्शन के लिए याद किया जाता है। इस दौरान अजंता मेंडिस ने 17 विकेट और 46 रन से ‘मैन ऑफ द सिरीज’ का खिताब अपने नाम किया था।

एशिया कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड श्रीलंका के पूर्व बल्लेबाज सनथ जयसूर्या के नाम दर्ज है। वर्ष 2004 में कुल 293 रन और 4 विकेट के साथ श्रीलंका के सनथ जयसूर्या ने ‘मैन ऑफ द सिरीज’ के अवॉर्ड को अपने नाम किया था। वही वर्ष 2000 के एशिया कप में कुल 295 रन बनाकर पाकिस्तान के मोहम्मद यूसुफ को ‘प्लेयर ऑफ द सिरीज’ से नवाजा गया था। इसके अलावा वर्ष 1984 में भारत के सुरिंदर खन्ना ने 2 मैच में 107 रनों के साथ ‘प्लेयर ऑफ द सिरीज’ का खिताब जीता था।

बता दे की अब तक हुए एशिया कप में भारत ने 7 बार, श्रीलंका ने 5 बार और पाकिस्तान ने 2 बार एशिया कप के खिताब पर जीत दर्ज की है। एशिया कप के 15 वें सीजन की शुरुआत 27 अगस्त 2022 से होगी। एशिया कप का फायनल मैच 11 सितंबर को खेला जायेगा। इस टूर्नामेंट में कुछ 6 टीमे हिस्सा लेंगी। 6 टिमो में से 5 टीमो का चयन पहले ही हो चुका है। जबकी 6वीं टीम के लिये 4 टीमो के बीच क्वालीफायर खेला जाएगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular